ई-गवर्नेस***कार्यालयों में समयबद्धता, पारदर्शिता एवं प्रभावी व्यवस्था हेतु एक नया कदम***गुड गवर्नेस DARPAN <<<<<<<<<<<<शुभारम्भ नौ अक्टूबर 2014>>>>>>>>>>>>DARPAN

आदेश-निर्देश

जिलाधिकारी के आदेश-निर्देश
         दर्पण  हेतु जिलाधिकारी महोदय द्वारा समय-2 पर निर्गत  किये गये आदेश - निर्देश निम्नांकित है-






                                           कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई             संख्या-    / दर्पण/14-15


                 आदेश                            दिनांक-  13 मई, 2016

 

          जैसा कि आप सभी अवगत हैं कि शासन की मंशानुरूप कार्यालयों की कार्य-प्रणाली को सुव्यवस्थित, पारदर्शी, गतिशील तथा नियमानुकूल देयों का ससमय भुगतान सुनिश्चत कराने के निमित्त वेब आधारित, शून्य लागत पर  ‘‘दर्पण’’  कार्यक्रम जनपद में संचालित है। इसके अन्तर्गत  सम्बन्धित कार्यालयों द्वारा मासिक वेतन व अन्य देयों के भुगतान की समस्त पटलवार कार्यवाही को वेबपृष्ठ पर प्रदर्शित किया जाता है तथा कार्य संपादन के आधार पर कार्यालय/पटल को अंक दिये जाते हैं।

       अत: दर्पण का वेबपृष्ठ संपादित कार्यानुसार ससमय अपडेट किया जाना आवश्यक है, यह कार्य मात्र पाँच मिनट से भी कम समय का है, परन्तु वहुत से कार्यालयों द्वारा यह कार्य बिलम्ब से किया जाता है जिससे सही स्थिति का ज्ञान नही होता है, अत: दर्पण की देयक सूचना प्रणाली से जुड़े कार्यालय व विभाग के अधिकारी यह सुनिश्चित करेगें कि दर्पण की वेबसाईट समय से नियमित रूप से अपडेट हो। यदि किसी कार्यालय की संपादित कार्यानुसार वेबसाईट को इस माह अभी तक अपडेट नही किया गया है तो पत्र प्राप्त होने की तिथि को ही अपडेट कराना सुनिश्चित किया जाये। दर्पण के वेब पृष्ठ को मेरे द्वारा अवलोकित किय जायेगा। इस कार्य में किसी भी प्रकार की हीलाहवाली क्षम्य नही होगी।

      वर्तमान में निम्नलिखित कार्यालय / विभाग दर्पण से सीधे जुड़े है-

1- राजस्व विभाग
2- पंचायतराज विभाग
3- बेसिक शिक्षा
4- कृषि विभाग
5- ग्राम्य विकास
6- सहकारिता
7- ग्रामीण अभियन्त्रण सेवा
8- समाज कल्याण
9- विकलांग कल्याण
10- अर्थ एवं संख्याधिकारी
11-  महिला कल्याण एवं पुष्टाहार

      दर्पण की कार्यप्रणाली की जानकारी हेतु दर्पण विवरणिका, वेबपृष्ठ अथवा प्रभारी दर्पण , कलेक्ट्रेट  हरदोई से सम्पर्क/ पत्राचार किया जा सकता है।   

                                                                                                                (विवेक वार्ष्णेय)
                                                       जिलाधिकारी, हरदोई


पत्रांक-    दर्पण @14-15       दिनांक-     13 मई, 2016

प्रतिलिपि- निम्नांकित को इस निर्देश के साथ प्रेषित कि दर्पण की कार्यप्रणाली के अनुसार अनुपालन सुनिश्चित करें।

            1.. मुख्य विकास अधिकारी, हरदोई को सूचनार्थ प्रेषित।

            2.. अपर जिलाधिकारी, हरदोई।
                                                                                                     
    3.. वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई को इस आशय के साथ कि वे देयकों के     भुगतान के समय यह सुनिश्चित करें कि दर्पण का वेबपृष्ठ अपडेट हो। 

       4..  समस्त उपजिलाधिकारी, हरदोई।

    5.. प्रभारी अधिकारी, बिल्स/ संग्रह/ भूलेख/नजारत

     6.. जिला विकास अधिकारी, हरदोई

     7.. अधिशाषी अभियन्ता, ग्रा0 अभि0 सेवा, हरदोई।

    8.. जिला पंचायतराज अधिकारी, हरदोई।

    9.. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, हरदोई।

    10.. वित्त एवं लेखाधिकारी, बेसिक शिक्षा, हरदोई।

    11.. जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, हरदोई।

    12.. जिला सहा. निबन्धक, सह0 स0 हरदोई।

    13.. जिला कृर्षि अधिकारी, हरदोई।

    14.. जिला समाज कल्याण अधिकारी, हरदोई।

    15.. जिला कार्यक्रम अधिकारी, हरदोई।

    16. जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु

    17.. श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण  हरदोई


                                                                                                               (विवेक वार्ष्णेय)
                                                     जिलाधिकारी, हरदोई


                 dk;kZy; ftykf/kdkjh gjnksbZ

i=kad&        दर्पण@2013&14    fnukad -    07 अक्टूबर 2014


विषय- वेतन एवं अन्य देयों की भुगतान-प्रक्रिया को दर्पण से जोड़ने के सम्बन्ध में।

leLr miftykf/kdkjh]

tuin gjnksbZ

         संज्ञान में आ रहा है कि कर्मचारियों का मासिक वेतन एवं अन्‍य देयों का भुगतान निर्धारित तिथि से कई दिनों के बाद हो रहा है। कर्मचारी जिस कार्य हेतु अग्रिम जी0पी0एफ0 लेना चाहते है, उसका भी भुगतान कार्य समाप्‍त होने के पश्‍चात् ‍हो रहा है। इस विलम्‍ब का कारण पटल सहायक एक दूसरे पर टालते है।


          उपरोक्‍त कार्यवाही ससमय् संपादित हो, इस उद्देश्‍य से दपर्ण कार्यक्रम प्रारम्‍भ किया गया है। इस कार्यक्रम में सम्‍पूर्ण भुगतान प्रणाली के विभिन्‍न स्‍तरों पर सम्‍पादित हो रहे कार्यों को इंटरनेट पर दर्शाया जाता है। साथ-साथ देयकों से सम्‍बन्धित सभी पटल पर कार्य हेतु समय-सीमा निर्धारित की गयी है।


             संघ के पदाधिकारियों द्वारा प्राप्‍त किसी पुराने बकाया प्रकरण को विशेष प्रकरण के पेज पर दर्ज कर उसका समयबद्ध निस्‍तारण किया जायेगा।


             इस कार्य में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाले कर्मियों को पुरस्‍कृत किया जायेगा। दपर्ण को विकसित करने में श्री सुदेश कुमार दीक्षित द्वारा विशेष प्रयास किया गया है जो इस व्‍यवस्‍था का सतत् अनुश्रवण कर इसके प्रभावी संचालन के लिये समय-समय पर मुझे अवगत करायेंगे। बिना किसी धन के विकसित इस वेबपेज को समय-समय पर आवश्‍यकतानुसार और सुधार करने का प्रयास किया जायेगा ताकि उ0प्र0 शासन की मंशानुरूप पारदर्शी, समयबद्ध एवं शुचितापूर्ण भुगतान प्रणाली कायम हो। कोई भी सज्जन अपने सुझाव मुझे अथवा श्री दीक्षित को भेज सकते है। आपके सुझावों को गंभीरता से लिया जायेगा।


                      इस कार्यक्रम से सम्बन्धित निम्नलिखित तथ्यो पर ध्यान देते हुये दिये गये निर्देशो का अनुपालन सुनिश्चित करें-


1- दर्पण कार्यक्रम के विकसित करने व संचालन में किसी भी प्रकार कोई व्यय नही होना है क्योकि इसमें निशुल्क उत्पादकों व सुविधायों का उपयोग हुआ है। इसका संचालन, नियन्त्रण, निर्देश एवं अन्य विवरण इसके वेबपृष्ठों पर उपलव्ध है। जिसको इंटरनेट के माध्यम से देखने हेतु यू.आर.एल.पर www.vdarpan.tk टाईप करें। इस कार्यक्रम के माध्यम से अच्छे कार्मिको को पुरस्कृत किया जायेगा।

 2- इस कार्यक्रम में अभी राजस्व विभाग के वेतनभोगियों की भुगतान-प्रक्रिया को ही सम्मिलित किया गया है। भविष्य में अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं की भुगतान प्रक्रिया को जोड़ा जा सकता है।

 3- भुगतान प्रणाली के विभिन्न स्तरों पर सम्पादित हो रहे कार्य के दृश्याकंन हेतु वेबपृष्ठ पर प्रत्येक स्तर के कार्य पूर्ण करने हेतु समय-सीमा निम्नानुसार निर्धारित की गयी है-    

    (अ) मासिक वेतन-

क्र.स
            कार्य का विवरण
    निर्धारित अवधि
1&
कम्पयूटर से मासिक वेतन बिल तैयार करना।
मासान्त से तीन दिवस पूर्व
2&
बजटअंकन व आ.वि.vf/kdkjh ds gLrk{kj होना
मासान्त से दो दिवस पूर्व तक
3&
 dks"kkxkj ls Vksdsu izkIr djuk A
मासान्त से एक दिवस  तक
4&
ई-फाईल तैयार कर अपलोड होना तथा ई-चेक का अनुमोदन होना।
मासान्त तक
5&
 dks"kkxkj esa बिलों के भुगतान हेतु प्रस्तुत करना
अगले माह की प्रथम तिथि तक
6-
कोषागार में भुगतान प्रक्रिया पूर्ण होना
अगले माह की प्रथम तिथि तक




         (   lk0 Hk0 fuf/k ls vfxze fu"dklu& 

         dk;Z dk fooj.k
fu/kkZfjr vof/k
1&
प्रार्थनापत्र प्राप्त करना।
 fdlh Hkh dk;kZy; fnol मेंA
2&
नियमानुसार कार्यवाही पूर्ण कर पत्रावली  मुख्यालय प्रेषित करना।
izkFkZuki= izkIr gksus ds पश्चात  दो dk;Z fnolksa esaA
3&
vijftykf/kdkjh ¼fo0@jk0½ ls Lohd`r djkuk
                                             
Rkglhyksa ls i=koyh izkIr gksus के पश्चात् दो dk;Z fnolksa esa rFkk tuin Lrj ij dk;Zjr~ dkfeZdksa ds izkFkZuki= izkIr gksus ds पश्चात 4 dk;Z fnolksa esaA
4&
स्वीकृतोपरान्त देयक तैयार कर आ.वि.आ. से हस्ताक्षरित  होना।
स्वीकृतोपरान्त एक dk;Z fnol esaA
5&
कोषागार से टोकेन प्राप्त करना।
आ.वि.आ. के हस्ताक्षरोपरान्त एक कार्य दिवस में।
6&
ई-फाईल तैयार कर अपलोड होना तथा ई-चैक का अनुमोदन होना।
Vksdsu izkIr gksus ds ckn ,d dk;Z fnol esaA
7-
कोषागार में भुगतान प्रक्रिया पूर्ण होना
देयक प्राप्त होने से 1 कार्य दिवस मे

 
  प्रार्थनापत्र प्राप्त होने के पर निर्धारित प्रारूप पर सूचना दर्पण कार्यालय को अधिकतम अगले  कार्य दिवस में प्रेषित की जानी होगी अथवा इटरनेट के माध्यम से भी भेजी जा सकेगी।

(स) भुगतान सम्बन्धी विशेष प्रकरण -- उच्च अधिकारियों अथवा कर्मचारी संघ के जिला पदाधिकारियों से प्राप्त बकाया सम्वन्धी प्रकरणों को दर्ज किया जायेगा तथा उसका समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित किया जायेगा। सम्पूर्ण प्रक्रिया को इंटरनेट के माध्यम से देखा जा सकेगा। समय सीमा कार्यानुसार निर्धारित होगी।


4-  किसी कार्यक्रम की सफलता हेतु आवश्यक है कि कार्मिकों का उनके द्वारा सम्पादित किये गये कार्यानुसार पारदर्शी सतत् मूल्यांकन हो जिसके हेतु एक वेबपृष्ठ तैयार कर आधुनिक मनौवैज्ञानिक  मूल्याकंन पद्धति के अन्तर्गत  अंकीय व्यवस्था बनायी गयी है, जो निम्न प्रकार है-
क्र.सं.
कार्य का नाम
                  कार्यानुसार प्राप्त होने वाले  अंक
ससमय कार्य पूर्ण होने पर
समय सीमा उपरान्त दो कार्य दिवसों में
दो दिवसों के उपरान्त भी कार्य पूर्ण न होने पर
1
मासिक वेतन
        1
      0
       -1
2
अग्रिम जी.पी.एफ.
        0
      0
       -2
3
विशेष प्रकरण
        1
      0
       -3
प्राप्तांकों के आधार पर निर्णय लिया जायेगा।
5- सूचनाओं के पठन हेतु एक सूचना-पट नाम का वेबपृष्ठ तैयार किया गया है। जिसके द्वारा कोई सामान्य सूचना वेब पर पठन हेतु दृश्याकिंत की जा सकती है। दृश्याकंन हेतु अनुभाग प्रमुख लिखित रूप से सूचना (गोपनीय सूचनाओं को छोड़कर) कार्यालय में दे सकता है। सूचना-पट प्रतिदिन दोपहर एवं शाम को देखना चाहिए।
6- प्रतिदिन संपादित हुये कार्य को इंटरनेट के माध्यम से प्रदर्शित करने हेतु सांय पाँच बजे जनपद स्तर पर तैनात पटल सहायको ( विल लिपिक सं.का., ना.नाजिर, स.रा.ले. [विल], भूलेख लिपिक़) }kjk vius fd;s x;s dk;Z को स्वयं अपडेट करना होगा। यह कार्य मात्र पाँच मिनट में पूर्ण हो जायेगा।  अप़डेट होने के उपरान्त प्रमाण स्वरूप दर्पण पंजिका पर अपने हस्ताक्षर भी करेगे। यह कार्य डाटा सेन्टर (एन.आई.सी.) में श्री सुदेश कुमार दीक्षित के नियन्त्रण में सम्पादित होगा।
    vr% आप अपने अधीनस्थों को तत्काल निर्देशित करें कि वह उपरोक्त कार्यक्रमानुसार कार्य संपादित करना सुनिश्चत करें। इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम की सफलता आपकी कार्य के प्रति रूचि एवं गंभीरता पर निर्भर करेगी।
                                                                          ( रमेश मिश्र  )

                                                             जिलाधिकारी ,हरदोई
                                                         

i=kad&        दर्पण@2013&14    fnukad -    अक्टूबर 2014
प्रतिलिपि- आवश्यक कार्यवाही एवं सूचनार्थ प्रेषित-

         1- अपर जिलाधिकारी हरदोई ।
      2&ofj"B dks"kkf/kdkjh gjnksbZA
      3& izHkkjh vf/kdkjh Hkwys[k@laxzg@utkjr@fcYl dks vuqikyukFkZA
      4& leLr rglhynkj tuin gjnksbZ dks vuqikyukFkZA
          5-   जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु
                                                                 

                                                                       ( रमेश मिश्र  )


                                                             जिलाधिकारी हरदोई
 
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
                                                                                                       संख्या- दर्पण समिति/14-15/1
                                            कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई
                                                              आदेश                           दिनांक-     दिसम्बर,2014
                                                                  


      दर्पण के अन्तर्गत वेतन एवं अन्य सेवा सम्बन्धी लाभों को नियमानुसार प्राप्त न होने पर  सेवारत/सेवानिवृत्त कर्मचारी उचित लाभों को प्राप्त करने हेतु प्रार्थनापत्र दे सकता है। जिसके सुसंगत शासनादेशों के अनुसार ससमय निस्तारण की व्यवस्था इस कार्यक्रम के अन्तर्गत की गयी है। इस क्रम में अनेक सेवारत/सेवानिवृत्त कर्मचारियों के प्रार्थनापत्र प्राप्त हुये हैं। ऐसे प्रकरणों का उचित व त्वरित गति से निस्तारण  हेतु एक वित्तीय जाँच-समिति  की संरचना निम्नवत् की जाती है –

  -     समिति का नाम – ‘‘दर्पण’’ वित्तीय जाँच-समिति, हरदोई

 ब-   समिति के पदाधिकारी निम्नानुसार है-

-----------------------------------------------------------------------------------------------------

        I.            श्री सन्तोष कुमार मौर्या,

लेखाधिकारी, बेसिक शिक्षा, हरदोई             :    अध्यक्ष

     II.            श्री वदन सिंह यादव,

जिला लेखाकार, सहा.नि. स. स. , हरदोई        :      सदस्य

   III.            श्री अजीत सिंह,

लेखाकार, जि.वि.नि. हरदोई                   :      सदस्य

  IV.            श्री आशाराम राठौर,

लेखाकार, जि. कृषि अधिकारी, हरदोई                     :      सदस्य

 -    कार्य संचालन हेतु आवश्यक निर्देश निम्नवत है-
1-       उपरोक्त समिति प्राप्त प्रार्थनापत्रों पर सुसंगत नियमों के अन्तर्गत विचार कर अपना स्पष्ट मन्तव्य  अधोहस्ताक्षरी के समक्ष अनुमोदन हेतु प्रस्तुत करेगी।  अनुमोदनोपरान्त अग्रिम कार्यवाही हेतु सम्बन्धित कार्यालय को निर्धारित समयावधि में अनुपालनार्थ प्रेषित किया जायेगा।  
2-      समिति की बैठक हेतु समय व तिथियां आवश्यकतानुसार समिति के अध्यक्ष स्वविवेक से इस प्रकार निर्धारित करेगें कि, प्राप्त प्रार्थनापत्रों का ससमय निस्तारण हो सके।
3-      समिति द्वारा जाँच हेतु जो भी अभिलेख या सूचनाएं माँगी जायेंगी। वह सभी सम्बन्धित कार्यालयों/पटल सहायकों द्वारा तत्काल उपलब्ध करानी होगी।
4-       समिति को  कार्य संपादन हेतु कलेक्ट्रेट परिसर में स्थान व उचित व्यवस्था प्रभारी अधिकारी, नजारत द्वारा सुनिश्चित की जायेगी। कार्य के समय समिति के सहयोग हेतु एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भी उपलव्ध कराया जायेगा।
5-       दर्पण कार्यक्रम एक जनहित का कार्यक्रम है अत: इसके कार्यों  हेतु कोई मानदेय या भत्ता देय नही होगा।
6-       प्रतिदिन सम्पादित हुये कार्य को दर्पण के वेबपृष्ठ पर दर्ज किया जायेगा।
7-       दिनांक 18-12-2014 को समिति के समस्त पदाधिकारीगण प्रभारी दर्पण के साथ अपरान्ह 1-00 बजे अधोहस्ताक्षरी के कार्यालय में उपस्थित होगें तथा आवश्यक विचार-विमर्श कर कार्य करना प्रारम्भ करेगें।

                                                                                                                ( रमेश मिश्र  )
                                                                         जिलाधिकारी हरदोई
i=kad&       /दर्पण समिति@14-15 / 1       fnukad -     दिसम्बर, 2014

प्रतिलिपि- सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित-

1-     मुख्य विकास अधिकारी, हरदोई
2-     अपर जिलाधिकारी, हरदोई।
3-     वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई।
4-     नगर मजिस्ट्रेट /प्रभारी अधिकारी, बिल्स हरदोई।
5-     उप जिलाधिकारी, सदर हरदोई / शाहावाद / सण्डीला / सवायजपुर / बिलग्राम।
6-     izHkkjh vf/kdkjh Hkwys[k@laxzg@utkjr / संयुक्त कार्यालय हरदोईA
7-     जिला वि. निरीक्षक, हरदोई।
8-     लेखाधिकारी, बेसिक शिक्षा, हरदोई।
9-     जिला कृषि अधिकारी, हरदोई।
10-   सहा. निब. सह. समि. हरदोई।
11-   तहसीलदार, सदर हरदोई / शाहावाद / सण्डीला / सवायजपुर / बिलग्राम।
12-   समिति के समस्त सदस्यगण।
13-   जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु
14-   श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण कार्यक्रम हरदोई।

                                            जिलाधिकारी ,हरदोई

------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

                                                                  संख्या- दर्पण समिति /14-15/1

                  कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई
                                                      आदेश                                 दिनांक -     अप्रेल,2015



                      दर्पण कार्यक्रम के अन्तर्गत सेवा सम्बन्धी लाभों को नियमानुसार प्राप्त न होने पर कोई भी सेवारत/सेवानिवृत्त कर्मचारी उचित लाभों को प्राप्त करने हेतु प्रार्थनापत्र दे सकता है, जिसे सुसंगत शासनादेशों के अनुसार निस्तारण की व्यवस्था है। इस क्रम में अनेक सेवारत/सेवानिवृत्त कर्मचारियों के प्रार्थनापत्र प्राप्त हुये हैं। वित्तीय प्रकरणों का उचित व त्वरित गति से निस्तारण हेतु एक वित्तीय जाँच समिति का गठन किया है। समिति द्वारा अनेक प्रकरणों का निस्तारण भी किया गया है, परन्तु गंभीर एवं अपेक्षा से अधिक संख्या में प्रार्थनापत्र प्राप्त हो रहै है जिससे अपेक्षित निस्तारण नही हो पा रहा है, निस्तारण शीघ्रता से व पारदर्शी हो इस हेतु निम्न निर्देशों का अनुपालन किया जाये-


    1- समिति की बैठक अपरान्ह दो बजे से सांय पाच बजे तक प्रत्येक माह के दिनांक 5,10,15,20,25 को होगी। प्रकरण के सम्बन्ध में समिति का मन्तव्य स्पष्ट व समस्या का निराकरण करने वाला होना चाहिए।


    2- शिक्षा विभाग के प्रकरणों मे लेखाधिकारी, बेसिक शिक्षा, हरदोई के स्थान पर समिति की बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई द्वारा की जायेगी।


        3- जाँच के समय सम्बन्धित कार्यालय सहायक के साथ-2 प्रार्थी को भी अपने पक्ष में अभिलेख, शासनादेश तथा मौखिक कहने का अवसर दिया जायेगा।


       4- प्रभारी दर्पण व अध्यक्ष जाँच समिति आवश्यकता होने पर जनपद के राजकीय कार्यालयों में कार्यरत वित्तीय अनुभव वाले कार्मिक को अस्थाई सदस्य के रूप में नामित कर सहयोग ले सकते है। जनपद के किसी कार्यालय द्वारा कार्यहित में वित्तीय सलाह/परामर्श भी समिति से  लिया जा सकेगा।


    5- समिति को  कार्य संपादन हेतु कलेक्ट्रेट परिसर में स्थान व उचित व्यवस्था प्रभारी अधिकारी, नजारत कलेक्ट्रेट हरदोई द्वारा सुनिश्चित की जायेगी। कार्य के समय समिति के सहयोग हेतु एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भी उपलव्ध कराया जायेगा।


         6-  दर्पण कार्यक्रम एक जनहित का कार्यक्रम है अत: इसके कार्यों  हेतु कोई मानदेय या भत्ता देय नही होगा।



                                                                                         ( रमेश मिश्र  )
                                                                                    जिलाधिकारी ,हरदोई




i=kad&       /दर्पण समिति@14-15 / 1       fnukad -     अप्रेल, 2015


प्रतिलिपि- सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित-                                1    मुख्य विकास अधिकारी, हरदोई
2-     अपर जिलाधिकारी, हरदोई।
3-     वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई।
4-     नगर मजिस्ट्रेट /प्रभारी अधिकारी, बिल्स हरदोई।
5-उपजिलाधिकारी, सदर हरदोई / शाहावाद / सण्डीला / सवायजपुर / बिलग्राम।
6-     izHkkjh vf/kdkjh Hkwys[k@laxzg@utkjr संयुक्त कार्यालय हरदोईA
7-     जिला वि. निरीक्षक, हरदोई।
8-     जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, हरदोई।
9-     लेखाधिकारी, बेसिक शिक्षा, हरदोई।
10-   जिला कृषि अधिकारी, हरदोई।
11-   सहा. निब. सह. समि. हरदोई।
12-   तहसीलदार, सदर हरदोई / शाहावाद / सण्डीला / सवायजपुर / बिलग्राम।
13-   समिति के समस्त सदस्यगण।
14-   जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु
15-   श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण कार्यक्रम हरदोई।

                                                      रमेश मिश्र  )
                                                                                                   जिलाधिकारी ,हरदोई

                                                

-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------




                                                                       संख्या-   / दर्पण/14-15
                 कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई
                     आदेश                             दिनांक- 31जनवरी, 2015

          शासन की मंशानुरूप भुगतान-प्रणाली को सुव्यवस्थित, पारदर्शी, गतिशील तथा नियमानुकूल देयों का ससमय भुगतान सुनिश्चत कराने के निमित्त वेब आधारित, शून्य लागत पर  ‘‘दर्पण’’  कार्यक्रम का शुभारम्भ दिनांक 09 अक्टूबर 2014 को किया गया । प्रथमतया इसमें राजस्व विभाग जोड़ा गया था, जिसमें ऐतिहासिक सफलता प्राप्त हुई है। दर्पण का लाभ उठाने हेतु यह निर्णय लिया गया है कि बड़ी संख्या में कार्यरत कार्मिकों वाले कार्यालयो/ विभागों को इस कार्यक्रम के अन्तर्गत लाय जाये।
           बाल विकास एवं पुष्ठाहार विभाग में लगभग सात हजार महिलायें कार्य करती है। अत दर्पण कार्यक्रम से  इस विभाग को जोड़ने का निर्णय लिया गया है। जनवरी 2015 के मानदेय/वेतन को दर्पण के वेबपृष्ठ पर प्रदर्शित किया जाना सुनिश्चत किया जाये।
         दर्पण की कार्यप्रणाली व अन्य जानकारी हेतु दर्पण विवरणिका, वेबपृष्ठ तथा इस कार्यक्रम का नियन्त्रण व संचालन कर रहे श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण , कलेक्ट्रेट  हरदोई से किया जा सकता है। इस कार्य में किसी भी प्रकार का कोई व्यय नही होना है।

                                                                                                                                      (रमेश मिश्र)
                                                                                                                                  जिलाधिकारी, हरदोई
                                                                                                
i=kad&       दर्पण @14-15                   fnukad -        31जनवरी, 2015

प्रतिलिपि- सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित-
1-     मुख्य विकास अधिकारी, हरदोई
2-     वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई।
3-     जिला कार्यक्रम अधिकारी को इस निर्देश के साथ कि दर्पण की कार्यप्रणाली के सम्बन्ध पूर्व में निर्गत आदेशों के अनुसार अनुपालन सुनिश्चित करें।
4-     जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु
5-     श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण  हरदोई।
                                                  (रमेश मिश्र)
                                             जिलाधिकारी, हरदोई                        

---------------------------------------------------------------------
                                                                                                    संख्या- दर्पण समिति/14-15/1
                                            कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई

                                                              आदेश                         दिनांक-  08 अप्रेल, 2015

          शासन की मंशानुरूप भुगतान-प्रणाली को सुव्यवस्थित, पारदर्श, गतिशील तथा नियमानुकूल देयों का ससमय भुगतान सुनिश्चत कराने के निमित्त वेब आधारित, शून्य लागत पर  ‘‘दर्पण’’  कार्यक्रम का शुभारम्भ दिनांक 09 अक्टूबर 2014 को किया गया । प्रथमतया इसमें राजस्व विभाग व बाल विकास एवं पुष्ठाहार विभाग को जोड़ा गया था, जिसमें ऐतिहासिक सफलता प्राप्त हुई है। दर्पण का लाभ उठाने हेतु यह निर्णय लिया गया है कि बड़ी संख्या में कार्यरत कार्मिकों वाले कार्यालयो/ विभागों को इस कार्यक्रम के अन्तर्गत लाय जाये। इस क्रम में  स्वास्थय विभाग को  इस कार्यक्रम से जोड़ने का निर्णय लिया गया है।  इस विभाग में कार्यरत आशाओं के प्रतिपूर्ति राशि का समय से भुगतान नही हो पा रहा है। लगभग 3 हजार आशाओं की दूर-दराज गाँवों तक में इनकी तैनाती है। इन्हें समय से भुगतान मिलने से एक बड़े महिला समुदाय में शासन-प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ेगा तथा इनके कार्य में भी अधिक सुधार किया जा सकेगा।
         अप्रेल 2015 के मानदेय/वेतन को दर्पण के वेबपृष्ठ पर प्रदर्शित किया जाना सुनिश्चत किया जाये। दर्पण के अन्तर्गत प्रत्येक स्तर के कार्य संपादन के आधार पर अंक दिये जाते हैं जिसके आधार पर कर्मचारी/अधिकारी का मूल्यांकन होता रहता है, ऋणात्मक पाँच अंक होने पर प्रतिकूल प्रविष्टि दे दी जाती है। कार्य समय से सम्पादित होने पर एक धनात्मक अंक प्राप्त होता है।
         दर्पण की कार्यप्रणाली व अन्य जानकारी हेतु दर्पण विवरणिका, वेबपृष्ठ तथा इस कार्यक्रम का नियन्त्रण व संचालन कर रहे श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण , कलेक्ट्रेट  हरदोई से किया जा सकता है। इस कार्य में किसी भी प्रकार का कोई व्यय नही होना है।

                                                                                                                   (रमेश मिश्र)
                                                        जिलाधिकारी, हरदोई
i=kad&       दर्पण @14-15                   fnukad -        08 अप्रेल, 2015
प्रतिलिपि- अनुपालनार्थ प्रेषित-
1-     मुख्य चिकित्सा अधिकारी, हरदोई को इस निर्देश के साथ कि दर्पण की कार्यप्रणाली के अनुसार अनुपालन सुनिश्चित करें।
2-     जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु
3-     श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण  हरदोई
  
                                        (रमेश मिश्र)

                                       जिलाधिकारी, हरदोई
 --------------------------------------------------------------------------------------------------

                                       कार्यालय जिलाधिकारी, हरदोई           संख्या-    / दर्पण/14-15 
                                                  दिनांक-    मई, 2015    
                       आदेश                     


          शासन की मंशानुरूप भुगतान-प्रणाली को सुव्यवस्थित, पारदर्शी, गतिशील तथा नियमानुकूल देयों का ससमय भुगतान सुनिश्चत कराने के निमित्त वेब आधारित, शून्य लागत पर  ‘‘दर्पण’’  कार्यक्रम का शुभारम्भ दिनांक 09 अक्टूबर 2014 को किया गया । यह एक ऐतिहासिक सुधार वाला कार्यक्रम साबित हुआ है। इसका लाभ उठाने हेतु यह निर्णय लिया गया, कि बड़ी संख्या में कार्यरत कार्मिकों वाले कार्यालयो/ विभागों को इस कार्यक्रम के अन्तर्गत लाय जाये। 


           इस क्रम में  पंचायती राज विभाग को जोड़े जाने का निर्णय लिया गया है। इस विभाग में लगभग दो हजार चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कार्यरत है। जिनमें से अधिकतर कमजोर एवं निर्बल वर्ग से आये है। समय से वेतन का भुगतान न होने के कारण पंचायती राज विभाग चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ( सफाई कर्मी) संघ ने भी   दर्पण से जोड़ने के हेतु  प्रार्थनापत्र दिये है। लगभग 2 हजार अल्प वेतनभोगी दूर-दराज गाँवों तक में तैनात है, इन्हें समय से भुगतान मिलने से शासन-प्रशासन के चुस्त दुरूस्त होने का अच्छा संदेश जायेगा, तथा इन्हें भी चुस्त दुरूस्त रहकर अपने कार्य में सुधार करने हेतु प्रेरणा मिलेगी।


         मई 2015 से मासिक वेतन व अन्य देयों को दर्पण के वेबपृष्ठ पर प्रदर्शित किया जाना सुनिश्चत किया जाये। दर्पण के अन्तर्गत प्रत्येक स्तर के कार्य संपादन के आधार पर अंक दिये जाते हैं जिसके आधार पर कर्मचारी/अधिकारी का मूल्यांकन होता रहता है, ऋणात्मक पाँच अंक होने पर प्रतिकूल प्रविष्टि दे दी जाती है। कार्य समय से सम्पादित होने पर एक धनात्मक अंक प्राप्त होता है।


         दर्पण की कार्यप्रणाली व अन्य जानकारी हेतु दर्पण विवरणिका, वेबपृष्ठ तथा इस कार्यक्रम का नियन्त्रण व संचालन कर रहे श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण , कलेक्ट्रेट  हरदोई से सम्पर्क किया जा सकता है। इस कार्य में किसी भी प्रकार का कोई व्यय नही होना है।

                                                                                                      (रमेश मिश्र)
                                                                                               जिलाधिकारी, हरदोई

i=kad&       दर्पण @14-15                   fnukad -         मई, 2015



प्रतिलिपि- सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित-


1-     मुख्य विकास अधिकारी, हरदोई ।


2-     वरिष्ठ कोषाधिकारी, हरदोई।


3-     जिला पंचायत राज अधिकारी, हरदोई को इस निर्देश के साथ कि दर्पण की कार्यप्रणाली के अनुसार अनुपालन सुनिश्चित करें।


4-     जिला सूचना अधिकारी को निशुल्क समाचार पत्रो में प्रकाशन हेतु


5-     श्री सुदेश कुमार दीक्षित, प्रभारी दर्पण  हरदोई

                                                                                             (रमेश मिश्र)
                                                                                             जिलाधिकारी, हरदोई



                                                      





१-           इस कार्यकम में प्रथमतया राजस्व विभाग को प्रायोगिक तौर पर लिया गया था। इस विभाग में प्रचलित व्यवस्था के अनुसार  तहसील स्तर पर तहसील में कार्यरत लेखपाल, संग्रह अमीन, व चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के मासिक वेतन देयक व इससे सम्वन्धित अवशेष देयक को तैयार करने का कार्य तहसील के कर्मचारी आर.के., नायब नाजिर, सहा. वासिल बाकी नवीस  करते है। वेतन बिल प्रपत्र जनपद स्तर पर बजट अंकन व प्रभारी अधिकारी, बिल्स  से हस्ताक्षरित होना, ट्रेजरी टोकेन प्राप्त करना, भुगतान हेतु वेतनभोगियों के खातों में धनराशि की  एन्ट्री की हुई ई-फाईल की अपलोडिंग, अनुमोदन के उपरान्त जिला कोषागार में देयक प्रपत्रों को भुगतान हेतु प्रस्तुत करना होता है। 
२-         यदि सब सामान्य रहता है तो तीन कार्य दिवसों में उक्त कार्य पूर्ण होकर मासिक वेतन का भुगतान आसानी से हो सकता है। देर से भुगतान होना किसी न किसी स्तर पर लापरवाही को प्रमाणित करता है। भविष्य में ऐसा न हो इसलिये  निर्धारित समय सारणी के अनुसार कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें।
३-       जी.पी.एफ.निष्कासन  हेतु आवेदन प्राप्त होने पर दर्पण कार्यालय हेतु निर्धारित प्रारूप पर सूचना उसी दिन अथवा उसके अगले दिन  अवश्य उपलब्ध करा दें। प्रारूप वेवसाईट पर दिया हुआ है। यह सूचना न भेजकर वेवसाईट पर सीधे स्वयं डाटा एन्टृी भी कर सकते है। आवेदन प्राप्त होने पर आवेदक को प्राप्तिपत्र भी दे।
४-       भुगतान से  सम्बन्धित पटल सहायक (कलेक्ट्रेट में कार्यरत) दिनभर हुये कार्य को सांय पाँच बजे डाटा सेन्टर में उपस्थित होकर अपना कार्य अद्यावधिक कराना सुनिश्चित करेगे। इस कार्य में पाँच मिनट से भी कम समय लगेगा।
५-       डाटा सेन्टर में सांय पाँच बजे से पाँच बजकर तीस मिनट तक यह कार्य श्री सुदेश कुमार दीक्षित  के पर्यवेक्षण में सम्पादित होगा। जो भी अपना कार्य अपडेट नही करायेगा उस कार्य को न होना मानकर आवश्यक दण्डात्मक कार्यवाही संचालित की जायेगी।
६-           ' सूचना-पट ' नामक वेबपृष्ठ पर सामान्य सूचना प्रदर्शित की जा सकती है। जिसके लिये अनुभाग प्रमुख अपने हस्ताक्षर सहित प्रदर्शित होने हेतु सूचना (गोपनीय सूचनाओं को छोड़कर) दर्पण कार्यालय में कार्यालय समय में दे सकते हैं।  इससे टेलीफोन का व्यय एवं समय की बचत के साथ-२ सूचना का प्रमाण भी बना रहेगा। कर्मचारियों एवं अधिकारियों से यह अपेक्षा की जाती है कि वे
'सूचना-पट ' अवश्य देखें लें ।





ृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृृ
 















दर्पण हरदोई आपके सुझावों का स्वागत है